zulf

Yeh ZulfoN Ki Badlee

सुबहा की फ़िज़ा में नशा घोलती हो
ये ज़ुल्फ़ों की बदली जो तुम खोलती हो

Khoobsurati Ki Intehaa

वो गहरी ज़ुल्फ़ों के छल्लों का उसके रुख़सार से खेलना
जन्नत की ख़ूबसूरती की इंतहा, इस मंज़र का क़तरा भर है