Author Archives

This is Prashant V Shrivastava and I write lyrics and poetry. Visit https://flightofpoetry.in for my short poetry and find all my released songs here: http://www.pecificcreation.com/category/lyrics/. For some exclusive poetry recited by me, watch my YouTube channel at https://www.youtube.com/channel/UCTEPv0Zzm0J6efsAr39uu7A.

Let's connect over FB, Twitter, and Insta - my common handle is pecificcreation.

  • Dekho HameiN bhi

    आँखों की अदाओं की रौनक़ ही और है
    एक नज़र देखो हमें भी, बड़ा सख़्त दौर है

  • Ishq

    धूप जलती तो हैं,
    पर धुआँ नहीं होता
    इश्क़ याद आ गया,
    जैसे ही ये सोचा

  • Angdaai

    झटके से ज़ुल्फ़ें खुलीं
    अँगड़ाई जो उसने ली
    ज़ुल्फ़ें तो बंध जाएँगी
    पर क़यामत किधर जाएगी

  • Nasheman

    यादों के महके नशेमन में
    गुनगुन से लमहे हैं
    जो छलके से रहते हैं

  • Majhdhaar

    इस पार कुछ ना था, उस पार क्या हुआ
    साहिल के प्यार में, मँझधार क्या हुआ
    ख़ंजर तो अब भी उसके हाथों में है
    फिर मेरे सीने के आर पार क्या हुआ

  • Maraasim

    शायरी की शक्ल में
    हाल-ए-दिल, भिजवाता रहूँगा
    तेरी यादों से बड़े मरासिम हैं
    मै आता जाता रहूँगा

  • Aye Nazar

    पलकों में पिघले सपनों का मलबा
    अब जो सख़्त हो चला है
    ए नज़र ज़रा बाहर देख के बता
    शायद उसकी यादों का वक़्त हो चला है

  • Ashq

    वीरानों से मुहब्बत की है
    तनहाइयों को जिया है मैने
    हर कतरा महफ़ूज़ रखा है
    कब अश्क़ बहने दिया है मैने

  • Tumhaare Lab

    तुम्हें देखते ही जैसे शरारत से भर जातीं हैं
    ये हवाएँ जो ज़ुल्फ़ें हटाते हुए, लब खिलातीं हैं

  • Jugnoo

    धूप होगी सारा दिन
    हम भी ग़म छुपाएँगे
    शाम होते ही पलकों के
    जुगनू जाग जाएँगे