तेरी आँखों के किनारे

तेरी आँखों के किनारे
अपने सपनों की कश्ती छोड़ आया हूँ
तूने दिल से बेघर किया
मै अपनी बसाई बस्ती छोड़ आया हूँ



Categories: Love Shayeri

Tags: , , , ,

%d bloggers like this: